विवाह पद्धति पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Vivah Paddhati PDF Free

विवाह पद्धति पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Vivah Paddhati PDF Free Download vivah paddhati gita press pdf free download विवाह पद्धति बुक पीडीएफ डाउनलोड

- Advertisement -

Vivah Paddhati : विवाह पद्धति क्या है?

विवाह पद्धति विभिन्न सामाजिक और सांस्कृतिक परंपराओं के आधार पर अलग-अलग संस्कृति और धर्मों में अलग होती है. यह अलग-अलग देशों और समुदायों में भी भिन्न हो सकती है. नीचे दिए गए कुछ प्रमुख विवाह पद्धतियाँ हैं:

  1. हिंदू विवाह पद्धति:
  • हिंदू धर्म में विवाह संस्कार महत्वपूर्ण होता है.
  • इसमें विवाहिता और वर के परिवार के सदस्यों के बीच संबंधों को
  • मजबूत करने का एक महत्वपूर्ण दौर होता है. यह विवाह पद्धति शादी की
  • मुहूर्त तथा विवाहिता और वर के बीच विवाह की सम्पूर्ण समाग्री को शामिल करती है.
  1. मुस्लिम विवाह पद्धति:
  • इस्लाम में निकाह नामक विवाह संस्कार होता है.
  • इसमें मुस्लिम शरीयत के अनुसार निकाह नामक विवाह सामरिक और
  • विधानात्मक पद्धति में संपन्न होता है. इसमें निकाहनामा और महर (महराना) नामक वस्त्र,
  • स्वर्ण या सोने के गहने की विदाई और बड़े परिवार और
  • मित्रों के साथ एक मेजबानी समारोह शामिल होती है.
  1. ईसाई विवाह पद्धति:
  • ईसाई धर्म में विवाह सामरिक और धार्मिक समारोहों का ही एक महत्वपूर्ण हिस्सा है.
  • इसमें विवाह प्रस्तावना, विवाहमंत्र, साक्षी, वेल्कम गेट, मंत्र-पुष्प समारोह,
  • अंगूठी पहनाने का समारोह तथा विवाहिता और वर के परिवार के सदस्यों के साथ सम्मेलन शामिल होते हैं.
  1. सिख विवाह पद्धति:
  • सिख धर्म में विवाह संस्कार अपनी परंपराओं के अनुसार संपन्न होता है.
  • यह विवाह पद्धति गुरुद्वारा में होती है, जहां विवाहिता और
  • वर के बीच आरम्भिक और धार्मिक समारोह होते हैं.
  • गुरुद्वारा साहिब में अर्दास, अनंत चार्तूर्दशी दा पाठ, लावां नामक मंत्र का पाठ,
  • फेरे, अरदास, लंगर सेवा तथा आशीर्वाद समारोह शामिल होते हैं.

ये कुछ प्रमुख विवाह पद्धतियाँ हैं, हालांकि यह केवल सारांश हैं और यह बदलते समय और सामाजिक परिवर्तनों के साथ अपनी विवाह पद्धतियों को अपडेट करती रहती हैं.

हिंदू विवाह पद्धति PDF

सबसे आखिर में डाउनलोड पीडीऍफ़ बुक लिंक शेयर किया गया है आगे हिंदू विवाह पद्धति के बारें में जानकारी पढ़े –

हिंदू विवाह पद्धति में विवाहिता और वर के परिवार के बीच विवाह संस्कार कई धार्मिक और सामाजिक रीति-रिवाजों के साथ संपन्न होता है. यहां नीचे हिंदू विवाह पद्धति के मुख्य तत्वों का वर्णन किया गया है:

  1. मुहूर्त निश्चय (Fixing the Wedding Date): विवाह की तिथि और समय का चयन किया जाता है, जो मुहूर्त शास्त्र और ज्योतिष के आधार पर किया जाता है. इसमें विवाहिता और वर के परिवार के पंडित या ज्योतिषी की सलाह ली जाती है.
  2. सामग्री का चयन (Selection of Wedding Items): विवाह समारोह में उपयोग होने वाली सामग्री का चयन किया जाता है, जैसे कि मंडप, वरमाला, वर और विवाहिता के वस्त्र, गहने आदि. इसमें रंग, शैली और आपसी समझदारी का ध्यान रखा जाता है.
  3. पंडित द्वारा पूजा (Pujas by the Priest): विवाह समारोह में पंडित द्वारा विभिन्न पूजाएं की जाती हैं, जैसे कि गणपति पूजा, कन्यादान पूजा, लज्जा होम, सप्तपदी, मंगलसूत्र धारण आदि. यह पूजाएं संस्कृत मंत्रों और पौराणिक क

थाओं के साथ संपन्न होती हैं.

  1. सात फेरे (Seven Vows): विवाहिता और वर के बीच सात फेरों की प्रतिज्ञा की जाती है, जिसमें दोनों पक्षों की साथीत्व और सहयोग की भावना को प्रकट किया जाता है. प्रत्येक फेरे के साथ, विवाहिता और वर एक विशेष मंत्र बोलते हैं.
  2. विदाई (Bride’s Farewell): विवाह समारोह के अंत में, विवाहिता को अपने माता-पिता और परिवार से विदाई दी जाती है. इस अवसर पर अलग-अलग क्षेत्रों में विभिन्न रस्में और परंपराएं होती हैं.

हिंदू विवाह पद्धति के अलावा, क्षेत्र और समाज के आधार पर और भी विवाहिता और वर के परिवार के साथ संबंधित अन्य संस्कार और परंपराएं हो सकती हैं। इनमें शादी के पूर्व समारोह, अतिथि सत्कार, आपसी बंधुत्व के साथ विवाह स्वीकार आदि शामिल हो सकते हैं।

विवाह पद्धति पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड

This book was brought from archive.org as under a Creative Commons license, or the author or publishing house agrees to publish the book. If you object to the publication of the book, please contact us.for remove book link or other reason. No book is uploaded on This website server. Only We given external Link

Related PDF

LATEST PDF